अयोध्या मामला: 29 जनवरी को अगली सुनवाई, जस्टिस ललित पर उठे सवाल

Share to the world
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


10:19 AM, 10-JAN-2019
सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्यीय संविधान पीठ गुरुवार को अयोध्या में 2.77 एकड़ भूमि विवाद की सुनवाई करेगी। गुरुवार को संविधान पीठ आगे होने वाली सुनवाई की रूपरेखा तैयार करेगी। अब तक इस मामले से जुड़ी 14 अपीलों की सुनवाई तीन सदस्यीय पीठ कर रही थी, लेकिन मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने इस मामले की सुनवाई के लिए पांच सदस्यीय संविधान पीठ गठित कर दी है। जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली संविधान पीठ में जस्टिस एसए बोबडे, जस्टिस एनवी रमण, जस्टिस यूयू ललित और जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ को शामिल किया गया है।

10:19 AM, 10-JAN-2019
गुरुवार को होने वाली सुनवाई में यह तय होने की संभावना है कि इस मामले की सुनवाई कब से होगी और रोजाना की जाएगी या नहीं। साथ ही यह देखने वाली बात होगी कि संविधान पीठ इस मामले में किन-किन संवैधानिक पहलुओं का परीक्षण करेगी। बता दें कि पिछले चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय पीठ ने 27 सितंबर को दिए फैसले में इसे केवल एक भूमि विवाद माना था। तीन सदस्यीय पीठ ने इसमें कोई संवैधानिक सवाल नहीं होने की बात कहते हुए यह मामला पांच सदस्यीय संविधान पीठ को भेजने से इनकार कर दिया था।

10:21 AM, 10-JAN-2019
राम मंदिर पर संवैधानिक पीठ द्वारा आज सुनवाई होने से पहले सुप्रीम कोर्ट के बाहर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

10:24 AM, 10-JAN-2019
थोड़ी देर में सुप्रीम कोर्ट की संवैधानिक पीठ राम मंदिर के मुद्दे पर सुनवाई शुरू करने वाली है। ऐसे में पूरे देश की निगाहें इस बात पर अटकी हुई हैं कि कोर्ट इस मामले पर क्या आदेश देती है।
10:32 AM, 10-JAN-2019
सुप्रीम कोर्ट में दस्तावेजों के बंडल पहुंचाए गए हैं। सभी पक्षकार पहुंच गए हैं। जजों का इंतजार हो रहा है। सुनवाई से पहले कोर्टरुम खचाखच भरा हुआ है।
10:38 AM, 10-JAN-2019
सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील राजीव धन सबसे पहले अपना पक्ष रखना चाहते हैं। चीफ जस्टिस ने कहा कि आज तारीख तय करनी है।

10:46 AM, 10-JAN-2019 सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील राजीव धन ने जस्टिस यूयू ललित पर सवाल उठाया है। उनका कहना है कि वह 1994 में कल्याण सिंह के लिए पेश हुए थे। जिसपर उन्होंने खेद जताया। उनके पक्ष में चीफ जस्टिस ने कहा कि आप खेद क्यों जता रहे हैं, आपने केवल तथ्य सामने रखे थे। वहीं केंद्र सरकार के वकील हरीश साल्वे ने कहा कि हमें यूयू ललित से कोई समस्या नहीं है।
सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि आज सुनवाई नहीं होगी बल्कि केवल तारीख और समयसीमा का फैसला होगा।।

10:49 AM, 10-JAN-2019
चीफ जस्टिस मे कहा कि राजीव धवन पर सवाल उठाने के बाद जस्टिस यूयू ललित खुद को इस संवैधानिक बेंच से अलग करना चाहते हैं।

10:54 AM, 10-JAN-2019
जस्टिस ललित पर मुस्लिम पक्षकार द्वारा सवाल उठाने के कारण आज एक बार फिर सुनवाई टाल दी गई है। अब 29 जनवरी को अगली सुनवाई होगी।
10:55 AM, 10-JAN-2019
सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि वह नई बेंच का गठन करेगा। इस बेंच में जस्टिस ललित की जगह किसी और जज को शामिल किया जाएगा।

23 total views, 1 views today


Share to the world
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »