आजम खान पर पूरा विश्वास वह गलत नहीं हो सकते सरकार कर रही दमन– मुलायम सिंह,

Share to the world
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

लखनऊ । भीख मांग कर चंदे से बनाई गई यूनिवर्सिटी को तबाह करने की कोशिश सारी जिंदगी कमाई और मेहनत से आजम खान ने यह यूनिवर्सिटी बनाई आजम खान पर पूरा विश्वास वह कभी गलत नहीं हो सकते वह एक ईमानदार और राष्ट्रीय नेता यह बातें आज उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने कहीं वह आज समाजवादी पार्टी के प्रदेश कार्यालय पर पत्रकारों से वार्ता कर रहे थे उन्होंने कहा कि आजम खान ने यूनिवर्सिटी के निर्माण के लिए एमएलए कोटे से मिले मकान को भी बेच दिया और वह आज स्वयं पतली गली के छोटे से मकान में रहते हैं यूनिवर्सिटी के निर्माण के लिए सैकड़ों बीघा जमीन खरीदने वाला इंसान डेढ़ 2 बीघा जमीन की बेमानी नहीं कर सकता मात्र 2 बीघा जमीन के लिए 27 गंभीर धाराओं में मुकदमे दर्ज कर लिए गए हैं जो जमीन 13 से 15 वर्षों पूर्व खरीदी गई थी स्वयं राजस्व निरीक्षक ने अपनी एफ आई आर में लिखते हैं कि एक गाटा संख्या यूनिवर्सिटी परिसर के बाहर है उसी गाटा संख्या के आधा दर्जन से ज्यादा मुकदमे दर्ज कर लिए गए हैं मुलायम सिंह ने कहा कि सिविल मामलों को आपराधिक मामलों में तब्दील कर दिया गया है जो व्यक्ति जिंदगी भर गरीबों और मजलूमो की लड़ाई लड़ता रहा वह आजम खान जालिम कैसे और गरीब विरोधी कैसे हो सकता है वक्फ की जमीन से कब्जा तत्कालीन जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक द्वारा हटाया गया और वर्षों बाद इसी मामले में लूट डकैती की रिपोर्ट मोहम्मद आजम खान उनके साथियों तथा समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं के विरुद्ध लिखी गई सरकारी जमीन पर सरकारी आवास बनाने के लिए सरकार द्वारा जिन अवैध कब्जों को हटाया गया वर्षों बाद अवैध कब्जा धारियों की शिकायत प्रशासन द्वारा मोहम्मद आजम खान व समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं पर लूट डकैती के झूठे मुकदमे दर्ज किए जा रहे हैं आजम खान पर लगभग 80 मुकदमे तथा समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं पर हजारों मुकदमे दर्ज किए गए हैं मुलायम सिंह ने कहा कि राजनीतिक प्रतिशोध का ऐसा भयावह रूप मैंने अपने पूरे राजनीतिक जीवन में ना देखा और ना सुना राजनीतिक विवाद का यह मतलब होता है कि ऐसा ख्याल भी नहीं आया था राजनीतिक जीवन में मतभेद तो देखे हैं लेकिन मनभेद की जो डरावनी सूरत बीते 3 माह में रामपुर में देखी है उसकी कल्पना नहीं की थी उन्होंने कहा कि आजम खान की 75 वर्षीय बहन को घर के अंदर से जो नमाज पढ़ चुकी थी और भोजन करने के लिए बैठी थी थाने का दरोगा पुलिस कर्मियों के साथ आकर अभद्रता और अश्लीलता के साथ घसीटते हुए थाने ले जाता है और थाने में भी अमानवीय बर्ताव करते हुए 10 से 11 सादे पन्नों पर हस्ताक्षर करा लेता है इस अत्याचार को देखकर जब बूढ़ी महिला की हालत बिगड़ती है तो उन्हें आनन-फानन में गाड़ी में दोबारा डालकर पटक दिया जाता है जहां उन्हें अस्पताल ले जाया गया जहां जांच उपरांत हार्टअटैक के गंभीर लक्षण पाए गए बड़े अस्पताल में रेफर किए जाने के बाद वह बूढ़ी महिला आज मौत और जिंदगी की जंग लड़ रही है उस महिला का गुनाह बस इतना है कि वह मौलाना मोहम्मद अली जौहर ट्रस्ट की कोषाध्यक्ष है और उससे भी बड़ा गुनाह है कि वह आजम खां की सगी बहन है मुलायम सिंह ने कहा कि इस समय रामपुर देश का सबसे चर्चित जिला बना हुआ है और इस समय आजम खान के चरित्र हनन की कोई कोशिश इसलिए भी नहीं छोड़ी जा रही क्योंकि उनका पूरा जीवन सादगी और ईमानदारी का प्रतीक है उन्होंने कहा कि संतोष की बात तो यह है कि यहां सारे आरोप शिक्षा के मंदिर को बनाने पर लगे हैं और सरकारें इन मंदिरों को मिटाना चाहती हैं परंतु ऐसा नहीं होगा जीत न्याय की होगी उन्होंने कहा कि चंदे से बनी इस इमारत में हमारा भी सहयोग रहा है आजम खान ने सारी जिंदगी मेहनत की साधारण परिवार में जन्म लेकर शिक्षा प्राप्त कर अलीगढ़ विश्वविद्यालय के अध्यक्ष रहे और अपना स्थान बनाया उन्होंने समाजवादी पार्टी के पदाधिकारियों कार्यकर्ताओं का आवाहन किया कि आजम खान की बेज्जती व अन्याय के विरुद्ध कार्यकर्ता खड़े हो जाएं हम स्वयं खड़े होकर इस आंदोलन में अन्याय के विरुद्ध लड़ेंगे उन्होंने पुराने दिनों को याद करते हुए कहा कि हमारे साथ भी अन्याय हुआ था हम भी फरार रहे एक दर्जन जिलों में मैं स्वयं बंद रहा पत्रकारों न उस समय लिखा कि मुलायम सिंह के साथ गलत हो रहा है उन्होंने पत्रकारों से भी कहा भी कि आजम खान पर हो रहे अत्याचारों के बारे में पत्रकार लिखें जल्द ही पार्टी के पदाधिकारियों कार्यकर्ताओं से विचार-विमर्श कर आंदोलन की रूपरेखा तय कर आंदोलन की घोषणा की जाएगी उन्होंने कहा कि भाजपा के कई नेताओं ने भी आजम खान के साथ हो रहे गलत को गलत बताया है और पार्टी को नुकसान होने की भी बात कही है मुलायम सिंह ने आजम खान के मुद्दे पर प्रधानमंत्री से मिलने के सवाल पर कहा कि अभी नहीं कह सकते किस से मिलना है किस से नहीं मिलना है जरूरत हुई तो इस मसले पर प्रधानमंत्री से भी बात की जाएगी आजम खान के मसले पर बोलते हुए एक समय मुलायम सिंह भावुक हुए मिर्जापुर के मिड डे मील कांड पर पूछे गए प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि पत्रकारों पर हुए अन्याय के विरुद्ध हमने भी डालीगंज पुल गोमती के पास आंदोलन किया इस मामले में यदि हमारी और आजम खान की कोई गलती हो तो पत्रकार जरूर लिखें आंदोलन में शिवपाल यादव के शामिल होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि शिवपाल तो लड़ लेता है हमारा भाई है वह भी लड़ेगा हम भी लड़ेंगे धारा 370 के मसले पर मुलायम सिंह ने कहा कि पाकिस्तान में भी दो विचार हैं कुछ लोग सोचते हैं कि इस मामले में हमें नहीं पढ़ना चाहिए था उन्होंने कहा कि पत्रकार हवा बनाने का काम करते हैं आजम खान पर व उनके परिवार की महिलाओं पर हुए अन्याय के विरुद्ध पत्रकार लिखने का काम करें

210 total views, 3 views today


Share to the world
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »