श्रद्धा और भक्ति भाव के बीच माता हुई विदा, मां दुर्गा की प्रतिमाओं का हुआ विसर्जन,

Share to the world
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

लखनऊ । मां दुर्गा जी के पूजा पंडालों में विराजी मां मंगलवार को विदा हो गई विदाई से पहले महिलाओं ने सिंदूर खेला जिसके बाद गाजे-बाजे के साथ रंग गुलाल खेलते हुए प्रतिमाओं को घाट पर ले जाकर विसर्जित किया गया दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन मंगलवार को सुबह 10:00 बजे के बाद से घाटों पर शुरू हो गया दुर्गा पूजा पंडालों से निकली मां की विदाई यात्रा के दौरान खूब ढाक बजी बंगाली समाज के पंडितों ने पूजा की थाना हजरतगंज क्षेत्र में लक्ष्मण मेला मैदान में तथा मनकामेश्वर मंदिर वार्ड मैं गोमती नदी के किनारे झूलेलाल वाटिका में नगर निगम द्वारा बनाए गए जलाशय में मां दुर्गा की प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया गोमती तटबंध के झूले लाल वाटिका में बनाए गए विसर्जन कुंडों में विसर्जन की जो व्यवस्था प्रशासन द्वारा की गई उस व्यवस्था में काफी अव्यवस्था दिखी जहां अस्थाई कुंडों को पूरी तरह से व्यवस्थित ना बनाने के कारण भरे गए पानी से कुंड के चारों तरफ मिट्टी की कटान होने से लगातार किसी बड़ी घटना होने की आशंका बनी रही वहीं बनाए गए अस्थाई कुंडों में पर्याप्त जल ना होने के कारण मूर्तियों को विसर्जित करने में काफी अव्यवस्था का सामना करना पड़ा जहां एक ओर घरों और पंडालों में विराजी मां दुर्गा की प्रतिमाओं का नौ दिनो तक मां दुर्गा को स्थापित करके श्रद्धा पूर्वक उनका पूजन अर्चन किया गया। वहीं प्रशासनिक लापरवाही के कारण आज उन मूर्तियों का सुचारू रूप से व सही ढंग से विसर्जन भी नहीं किया जा सका जिस कारण लोगों की आस्थाओं को भी ठेस पहुंची विसर्जन स्थल पर मौजूद पत्रकारों के प्रशासनिक अधिकारियों से बात करने के बाद कुंडों में पंप चला कर जल की पर्याप्त व्यवस्था प्रशासन द्वारा सुनिश्चित कराई गई जिसके बाद ही आस्था पूर्ण ढंग से माता की प्रतिमाओं का विसर्जन सुचारू रूप से प्रारंभ हुआ माता की प्रतिमा विसर्जन स्थल पर पर्याप्त पुलिस बल लगाया गया प्रशासन द्वारा विसर्जन को लेकर सुरक्षा के विशेष इंतजाम किए गए सुरक्षा की दृष्टि से विसर्जन घाटों पर जल पुलिस संग निजी गोताखोरों की भी तैनाती की गई नावो पर सवार होकर नदी के बीच में मूर्तियों के विसर्जन पर इस वर्ष सख्ती से रोक रही सभी विसर्जन कृतिम जल कुंडों में कराया गया । दुर्गा पूजा की समितियो को सुरक्षा के तय मानक संग पंडालों में स्थापित प्रतिमाओं के विसर्जन की अनुमति दी गई।

1,809 total views, 2 views today


Share to the world
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »