BP LOW SYMPTOMS IN HINDI

Ultimate bp low symptoms in hindi | लो ब्लड प्रेशर 10 लक्षण क्या हैं देख लो

bp low symptoms in hindi | लो बीपी के लक्षण और इलाज | bp low me kya khaye | लो ब्लड प्रेशर में क्या खाएं | bp low treatment at home | bp low ho to kya kare bp | low ke lakshan | bp low treatment at home | bp low kyu hota hai | लो बीपी कितना होना चाहिए | लो ब्लड प्रेशर को तुरंत कंट्रोल कैसे करे |बीपी लो में कौन सा फल खाना चाहिए | और इसके साथ ही बीपी लो के बारे में पूरी जानकारी बीपी लो क्यों होता है बीपी लो के होने के लक्षण उसके इलाज और बीपी लो के बारे में पूरी जानकारी आज के इस ब्लॉग में आप लोगों के साथ हम शेयर करने वाले हैं।

BP blood pressure Kya Hai | ब्लड प्रेशर क्या है?

बीपी का मतलब ब्लड प्रेशर होता है यानी कि हमारे शरीर में खून का दौरा इसे हम दूसरी भाषा में बीपी कह देते हैं। जब इंसान के शरीर का ब्लड प्रेशर लो हो जाता है ।तो हम उसे  bp low  कह देते हैं इसी तरह इंसान का ब्लड प्रेशर हाई हो जाता है तो हम उसे  bp high कह देते हैं  सामान्य इंसान का ब्लड प्रेशर सामान्य मात्रा 120/80 इसके बीच में रहता है। इसके मात्रा 120 से ऊपर जाने पर बीपी हाई हो जाता है और मात्रा 80 सेसे नीचे जाने पर बीपी लो हो जाता है हम इसे ही  पूरी तरह से बीपी लो या बीपी हाई को भी ब्लड प्रेशर बीपी कहती हैं।

BP Low Kya Hai | लो ब्लड प्रेशर क्या है?

 बीपी लो क्या होता है यह सवाल हर इंसान के दिमाग में जब आता है जब उसका ब्लड प्रेशर सच में लो हो जाता है तो आज हम आपको बताएंगे कि बीपी लो होने के क्या लक्षण है लो ब्लड प्रेशर यानि की बीपी लो तब होता है जब आप की नसों में खून का जवाब या फिर खून का दौरा कम हो जाता है ।

इसे ही साइंस की भाषा में बीपी लोग कहते हैं यानी कि जब आपके शरीर के हर हिस्से तक खून का दौरा सही तरीके से नहीं पहुंच पाता तब आपका बीपी लो हो जाता है कभी-कभी इसके लक्षण नजर नहीं आते लेकिन तब यह बहुत ही हानिकारक होता है इसके कुछ मुख्य लक्षण है सर दर्द करना पीयूसी महसूस करना थकान महसूस करना और अन्य अगर आपके साथ ही यह सब होते हैं तो आप तभी एक बार जमीन पर लेट कर जल्दी से खड़ी हो जाए जिससे आपके शरीर में ब्लड प्रेशर थोड़ा बढ़ने की संभावना है इसी के साथ ही ब्लड प्रेशर के अन्य कारणों का जिक्र हम नीचे आर्टिकल में करेंगे।

नार्मल ब्लड प्रेशर हमारे शरीर में कितना होना चाहिए – Normal blood Pressure 

सामान्य इंसान का ब्लड प्रेशर सामान्य मात्रा 120/80 इसके बीच में रहता है। इसके मात्रा 120 से ऊपर जाने पर बीपी हाई हो जाता है और मात्रा 80 सेसे नीचे जाने पर बीपी लो हो जाता है हम इसे ही  पूरी तरह से बीपी लो या बीपी हाई को भी ब्लड प्रेशर बीपी कहती हैं। मेडिकल की भाषा में इसे हाइपोटेंशन कहा जाता है।

अगर आपका ब्लड प्रेशर लो है तो आप को बेहोशी जैसी बीमारी का सामना करना पड़ सकता है इसके साथ ही लो ब्लड प्रेशर से आपके दिल पर भी असर पड़ता है और हार्ड अटैक जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है आदान की डॉक्टर ब्लड प्रेशर को तभी मानते हैं जब भी उसके लक्षण नजर आते हैं लेकिन कभी-कभी बिना लक्षणों के भी ब्लड प्रेशर लो या हाई हो सकता है। 

bp low symptoms in hindi | लो ब्लड प्रेशर लक्षण क्या होते हैं?

बीपी लो होने का प्रमुख कारण हमारे लाइफस्टाइल और खानपान से आता है हम जो डेली लाइफ स्टाइल में खान पान खाते हैं उसी से हमारा ब्लड प्रेशर लो या ज्यादा होता है आज हम बात करेंगे कि लोग ब्लड प्रेशर के क्या कारण है। 

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सेंट्रल ब्यूरो आफ हेल्थ इंटेलीजेंस की एक हालिया रिपोर्ट में  यह बताया गया है कि भारत में बीपी लो के मरीजों की संख्या हर दिन बढ़ती जा रही है और यह आगे चलकर बहुत बड़ी बीमारी होने की संभावनाएं हैं। 

लो ब्लड प्रेशर के कुछ मुख्य कारण नीचे दिए गए हैं अगर आपको इनमें से कुछ भी बीमारी है तो आप अपना  bp  जरूर चेक करवा ले । 

  • चक्कर आना या सर घूमना :लो बीपी का सबसे बड़ा कारण चक्कर आना होता है यदि आपको भी हर रोज चक्कर आते हैं तो आपका ब्लड प्रेशर भी लो हो सकता है उसे जरूर से जरूर डॉक्टर से चेक करवा ले । 
  • बेहोशी आना (सिंकोप) : अगर आपको भी अचानक बेहोशी जैसा कुछ महसूस होता है शरीर थक जाता है तो जरूर एक बार डॉक्टर से मिलकर चेकअप जरूर करवाएं 
  • धुंधला दिखना आंखों के सामने अंधेरा : अगर आपके भी आंखों में दर्द होता है और धुंधला दिखाई देता है तो आप अलर्ट हो जाएं और जल्दी से इसका इलाज ढूंढने की कोशिश करें
  • वोमिटिंग होना (उल्टी ):  कभी-कभी लो ब्लड प्रेशर वाले मरीजों के अंदर देखा गया है कि उन्हें वह मीटिंग ज्ञानी की उल्टी आती है इस लक्षण को भी नजरअंदाज ना करें। 
  • सांस लेने में दिक्कत होना:                                                                                                             ज्यादातर बीपी लो के मरीजों को सांस लेने में भी बहुत सी   दिक्कत तो का सामना करना पड़ता है
  • सांस लेने में दिक्कत होना:                                                                                                             ज्यादातर बीपी लो के मरीजों को सांस लेने में भी बहुत सी  दिक्कत तो का सामना करना पड़ता है
  • सांस लेने में दिक्कत होना:                                                                                                           

    बीपी लो के मरीजों को सांस लेने में भी बहुत सी  दिक्कत तो का सामना करना पड़ता है

  • थकान रहना: 

    अगर आपको भी थकान महसूस होती है तो आप भी समझ सकती हैं कि आपका ब्लड प्रेशर लो हो चुका है

  • एकाग्रता में कमी होना:

    अगर आपको भी किसी एक काम पर फोकस करने में कमी होती है तो यह भी एक बीपी लो का लक्षण है

  • हाथ पैर ठंडे पड़ जाना :                                                                                                               अगर आप के भी हाथ पैर बिना बुखार या फिर बिना किसी कारण के ठंडे हो जाते हैं तो यह भी बीपी का एक लक्षण है

READ IT ALSO = Income Guru App Se Paise Kaise Kamaye Incomeguru: Ultimate guide 2022

डॉक्टर का सलाह कब लेना हैं

अगर इन लक्षणों में से कोई भी लक्षण आपको आपके अंदर दिखे तो आपको तुरंत डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए और अपना बीपी भी चेक करवा लेना चाहिए।

Bp low me kya khaye | BP Low होने पर तुरंत क्या खाएं पिएं कि स्थिति कंट्रोल में आ जाए

  • ज्यादा से ज्यादा नमक खाएं नमक खाने से बीपी कंट्रोल में आ जाता है
  •  सुबह उठकर रोज एक गिलास पानी जरूर पी ए
  •  एक गिलास पानी में एक नींबू निचोड़ कर और आधा चम्मच नमक डालकर पी सकते हैं
  •  आप चॉकलेट भी खा सकते हैं उससे भी ब्लड प्रेशर कंट्रोल होता है
  •  आपको फिर भी पी सकते हैं कॉफी से भी ब्लड प्रेशर कंट्रोल होता है
  •  ज्यादा से ज्यादा फलों का सेवन करें

लो ब्लड प्रेशर से कैसे बचें – Prevention of Low Blood Pressure

अगर आपको लो बीपी की शिकायत है और आप शराब पीते हैं तो शराब पीना छोड़ दीजिए क्योंकि शराब में पानी की कमी होती है जिससे डिहाइड्रेशन हो जाता है इसी के साथ ही अन्य बीमारियों का सामना भी कर सकते हैं जैसे कि घर में दर्द होना और अलग समझाएं बीपी लो के कारण होती हैं

इन सब से बचने के लिए आप अपने खाने में आलू भिंडी गाजर और अन्य फल फ्रूट की अधिक कर सकते हैं चाय भी पी सकते हैं चाय के साथ-साथ चटपटी चीजों का सेवन बिल्कुल भी ना करें और ज्यादा चाय पीने से बीपी हाई की समस्या हो सकती है इसलिए डॉक्टर की सलाह पर ही यह सब कार्य करें  खाने में ज्यादा से ज्यादा हरी सब्जियों का सेवन करें हरी सब्जियों में विटामिन कार्बोहाइड्रेट प्रोटीन पाया जाता है जो कि हमारी बॉडी के लिए बहुत ही  लाभदायक होता है

लो ब्लड प्रेशर का इलाज क्या है – Low Blood Pressure Treatment

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में अनेक बीमारियां फैलती जा रही हैं जिनमें से लो ब्लड प्रेशर भी एक है सबसे पहले आपको लो ब्लड प्रेशर में अपने लक्षणों को देखना होता है उसके बाद ही उन लक्षणों के आधार पर डॉ आपको उपाय बताएंगे उन उपायों को करके आप  अपने ब्लड प्रेशर को नार्मल कर सकते हैं उदाहरण के तौर पर अगर आपको डिहाइड्रेशन की शिकायत रहती है तो डॉक्टर आपको बताएंगे कि ज्यादा से ज्यादा पानी पिए और आप आसानी से अपना बीपी कंट्रोल कर सकते हैं

सबसे पहले आपको डॉक्टर की सलाह लेनी होगी अगर आप बिना डॉक्टर की सलाह के कोई भी काम करते हैं तो वह आपकी जान के लिए हानिकारक हो सकता है डॉक्टर आपको बताएंगे कि आप को नमक की मात्र आपने खाने में थोड़ी ज्यादा करनी है लेकिन आपको इतनी ज्यादा भी नहीं करनी है जिससे आपके खाने में सोडियम की मात्रा ज्यादा हो जाए और और खाने में सोडियम की मात्रा ज्यादा होने से आपको हर्ट अटैक जैसी बीमारियां भी हो सकती हैं

Leave a Comment

Your email address will not be published.